फास्टैग क्या है? FASTag kya hai हिंदी में पूरी जानकारी!

FASTag यह एक नयी तकनीक है जिससे गाड़ी का टोल आप ऑनलाइन अदा कर सकते है. फास्टैग की मदद से अब आप को टोल प्लाजा में लंबी कतार में रुकने की जरुरत नहीं है. आज के यह लेख हम जानेंगे की फास्टैग क्या है और इसके फायदे क्या है, फास्टैग काम कैसे करता है, आदि. सभी जानकारी हिंदी में आसान शब्दों में बताई गई है.

फास्टैग क्या है. FASTag kya hai in Hindi

FASTag भारत सरकार द्वारा बनाई गई नयी तकनीक है जिससे आप अपना गाड़ी का टोल ऑनलाइन तरीके से अदा कर पाएंगे. यह सेवा RFID तकनीक के ऊपर बनाई गई है और जैसे ही आपकी गाड़ी टोल प्लाजा से गुजरेगी, आपके account से टोल को ऑनलाइन काट लिया जाएगा. फास्टैग की मदद से आपको किसी भी प्रकार की नकद देने की जरुरत नहीं है और ना ही लंबी कतार में रुकने की जरुरत है.

FASTag की सेवा से टोल प्लाजा के कामकाज में पारदर्शकता आएगी और वाहन चालकों को कोई भी दुविधा का सामना करने की जरुरत नहीं है. किसी भी प्रकार की दुविधा में फास्टैग की हेल्पलाइन नंबर 1033 पर कॉल कर के मदद ले सकते है.

फास्टैग कैसे काम करता है. How FASTag work in Hindi

FASTag की सुविधा RFID तकनीक पर काम करती है. RFID तकनीक टोल में आने वाली गाड़ी की पहचान विशेष तरंगों के जरिए की जाती है.

१५ दिसम्बर २०१९ से सभी फ़ोर वीलर (4 पहियों का वाहन) को FASTAg लेना ज़रुरी है. यह RFID टैग को आपके गाड़ी के विंड शील्ड पर लगाना है ताकि टोल से गुजरने पर आपके गाड़ी की जानकारी मिल सके और टोल को online काट लिया जाएगा.

नीचे हमने पूरी प्रोसेस बताई है जिससे आप फास्टैग कैसे काम करता है और FASTag kya hai यह समझ में आ जाएगा.

– सबसे पहले आपको FASTag को खरीदना होगा जो लघबघ सभी बैंक में या टोल प्लाजा पर उपलब्ध है. यह FASTag आपके बैंक account के साथ लिंक होगा.

– ज़रुरी कागज़ात पेश करने के बाद आपको एक RFID tag जिसमे आपके गाड़ी की जानकारी सेव की होगी.

– यह FASTag आपको अपने गाड़ी के विंड शील्ड पर लगाना है. यह tag स्टीकर की तरह चिपक जाएगा.

– अब जब भी आपकी गाड़ी टोल प्लाजा से गुजरेगी, आपकी डिटेल्स जैसे Tag ID, गाडी का number , RC number, Engine Number, गाड़ी का क्लास आदि FASTag की मदद से टोल प्लाजा होस्ट में scan होगी.

– अब यह जानकरी NETC Mapper में verification के लिए भेजी जाएगी और सही होने पर टोल प्लाजा होस्ट की मदद से टोल की रकम की गिनती की जाएगी.

– अब यह रकम काटने के लिए आपके बैंक में request भेजी जाएगी.

– आपकी बैंक अब FASTag की वॉलेट में काफी बैलेंस है या नहीं यह चेक करेगी. अगर काफी बैलेंस हो तो ज़रुरी टोल रकम कट ली जाएगी और अगर बैलेंस न हो तो कम बैलेंस का मैसेज टोल प्लाजा होस्ट को भेजेगी.

– फास्टैग वॉलेट में कम रकम होने पर आपको ज़रुरी टोल रकम नकद तरीके से अदा करनी पड़ेगी.

fastag kya hai और यह किस काम करता है यह अब आपको पता चल गया होगा. आगे हम देखेंगे फास्टैग के कुछ नियम और इसे online कैसे ख़रीदे.

ज़रुर पढ़े – मोबाइल में online Driving Licence Download कैसे करे? पूरी जानकारी हिंदी में

फास्टैग के बारे में कुछ नियम. Important rules about FASTag in Hindi

सरकार ने इलेक्ट्रॉनिक टोल कलेक्शन के बारे में कुछ नियम बनाए है. कुछ ज़रुरी नियम जो आपको पता होना ज़रुरी है वह नीचे बताए गए है –

fastag enabled toll lane

  1. सभी पात्र गाड़ियों को FASTag लेना ज़रुरी है.
  2. इलेक्ट्रॉनिक टोल कलेक्शन (ETC) यानी की फास्टैग पेमेंट की लेन अलग से होगी.
  3. अगर आपके पास FASTag नहीं है और आप ETC lane में चले जाते है तो दुगना टोल वसूला जाएगा. ( इसीलिए ध्यान रखे की किसी भी टोल प्लाजा में जाते समय पहले जाँच करे की फास्टैग लेन है या नहीं)
  4. सभी नेशनल हाई-वे और कुछ राज्य हाईवे पर आपको fastag से ही टोल भरना होगा. FASTag से लैस टोल प्लाजा की लिस्ट यहाँ से देखे.
  5. टोल की रकम आपके बैंक से बनाई गई वॉलेट से कटेंगे. आप यह वॉलेट अपने इस्तेमाल के अनुसार रिचार्ज कर सकते है.
  6. आप अपना वॉलेट १०० रुपयों के गुणक से रिचार्ज कर सकते है.
  7. अगर आपके वॉलेट में टोल के रकम से कम पैसे है तो टोल रकम आपको नकद रूप से अदा करनी पड़ेगी.
  8. अपने गाड़ी का फास्टैग आप दूसरे किसी भी गाड़ी में इस्तेमाल नहीं कर सकते. अगर आपके पास एक से ज्यादा गाड़ियाँ है तो हर एक गाड़ी के लिए अलग से FASTag लेना होगा.
  9. फास्टैग को विंड शील्ड से निकालने पर यह ख़राब हो जाएगा. इसी लिए अपने RFID tag को निकलने की कोशिश ना करे.
  10. अगर फास्टैग  ख़राब हो जाता है तो आपको फिर से नए फास्टैग के लिए आवेदन करना होगा और आपके पुराने फास्टैग वॉलेट की रकम आपको अपने account में मिल जाएगी.

ज़रुर पढ़ेRC book online download कैसे करे?

फास्टैग कैसे ख़रीदे. How to buy FASTag in Hindi

FASTag का RFID का tag खरीदना बेहद ही आसान है. आप ऑनलाइन तरीके से भी अपना fastag id ख़रीद सकते है.

fastag खरीदने के लिए आपको अपने गाड़ी के दस्तावेज़ जैसे RC book, Driving licence, Chassis number आदि देना होगा.

हमने ने फास्टैग कैसे ख़रीदे इसके बारे में विस्तार में अलग से लेख में बताया है. आप यह गाइड नीचे दी गई लिंक से पढ़ सकते है.

ऑनलाइन तरीके से FASTag कैसे ख़रीदे. फास्टैग RFID tag खरीदने के तरीके Hindi में

सारांश

फास्टैग क्या है और कैसे काम करता है (FASTag kya hai in Hindi) इसके बारे में हमने यह गाइड में विस्तार में देखा. अब आपको टोल प्लाजा में लंबी कतार में रुकने की जरुरत नहीं है और ना ही नकद रकम देने की जरुरत है. आपकी गाड़ी टोल प्लाजा से गुजरने के बाद आपके account से टोल की रकम online तरीके से काट ली जाएगी. अगर आपको FASTag kya hai इसके बारे में कोई भी सवाल या परेशानी है तो हमें नीचे कमेंट में ज़रुर बताए.

ज़रुर पढ़े

> RC book खो जाने पर नया कैसे निकाले? Duplicate rc book online kaise nikale hindi में पूरी जानकारी

RC transfer ऑनलाइन कैसे करे? RC transfer online kaise kare hindi में पूरी जानकारी

RC status online कैसे देखे अपने mobile में या कंप्यूटर में?

ड्राइविंग लाइसेंस खो जाने पर नया कैसे निकाले?

Driving Licence Online Apply कैसे करे

अपने गाडी के रोड टैक्स को ऑनलाइन कैसे भरे | Vehicle Road Tax online payment kaise bhare

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.