बिज़नेस शुरू करने के लिए Important Legal Registration

अगर आप एक नया व्यवसाय शुरू करने का सोच रहे है तो आपको इस बात का ध्यान रखना होगा की आपने सारे लीगल रजिस्ट्रेशन जो एक व्यवसाय के लिए जरुरी है, वो करवाए हो ताकि भविष्य में आपको लीगल रजिस्ट्रेशन के लिए कोई परेशानी न झेलनी पड़े। ये आर्टिकल उन लीगल रजिस्ट्रेशन की बात कर रहा है जो आपके व्यवसाय के लिए महत्वपूर्ण है तो इसे पढ़ने के बाद आपको पता चल जायेगा की आपको कोनसे रजिस्ट्रेशन करवाने जरुरी है।

महत्वपूर्ण लीगल रजिस्ट्रेशन की सूचि इस प्रकार से है –

1. बिज़नेस रजिस्ट्रेशन (Business Registration) –

बिज़नेस रजिस्ट्रेशन सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण व् जरुरी लीगल रजिस्ट्रेशन है क्योंकि इसके बिना आपका व्यवसाय वैध नहीं माना जायेगा इसलिए बिज़नेस रजिस्ट्रेशन करवाना बहुत ही जरुरी है। बिज़नेस रजिस्ट्रेशन करवाने के बहुत सारे फायदे है जैसे की आपको लोन आसानी से मिलेगा, आपके बिज़नेस की एक अलग पहचान बनती है, व् अन्य। अगर आप एक कंपनी शुरू करने का सोच रहे है तो आपको अपनी कंपनी का रजिस्ट्रेशन करवाना अनिवार्य है, इसे रजिस्टर करवाने के लिए आपको मिनिस्ट्री ऑफ़ कॉर्पोरेट अफेयर्स की वेबसाइट पर जाना होगा तथा उनके दिए गए नियमो के अनुसार अपनी कंपनी  को रजिस्टर करवाना होगा। अगर आप एक लिमिटेड लायबिलिटी पार्टनरशिप (LLP) फर्म शुरू करना चाहते है तो आपको मिनिस्ट्री ऑफ़ कॉर्पोरेट अफेयर्स के नियमो की पलना करनी होगी तथा उनके दिए  नियमो के अनुसार आपको रजिस्ट्रेशन करवाना होगा। तो बिज़नेस रजिस्ट्रेशन एक सबसे जरुरी लीगल रजिस्ट्रेशन होता है इसे जरूर करवाए।

2. उद्योग आधार रजिस्ट्रेशन (Udyog Aadhar Registration) –

अगर आप एक Micro, Small and Medium Enterprise (MSME) शुरू करने का सोच रहे है तो आपको उद्योग आधार का रजिस्ट्रेशन करवाना होगा क्योंकिं Ministry of MSME नियमो के अनुसार आपको अपने MSME का रजिस्ट्रेशन  करवाना होता है जो उद्योग आधार के माध्यम से होता है,  उधोग आधार रजिस्ट्रेशन के बाद आपको उधोग आधार नंबर मिलता है जो एक अद्वितीय संख्या होती है, ये आपके व्यवसाय को प्रमाणित करती है की आपने अपने व्यवसाय का  Udyog Aadhar Registration करवा रखा है। उद्योग आधार रजिस्ट्रेशन करवाना बहुत की आसान है, इसका रजिस्ट्रेशन करवाने के लिए आपको उधोग आधार की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाना होगा और वह जाकर उधोग आधार मेमोरेंडम भरना होगा जिसमे आपको पूछी गयी जानकारी लिखनी होगी जैसे की आधार नंबर, बैंक अकाउंट नंबर , ईमेल आईडी, फ़ोन नंबर, व्यसाय का पता व् नाम व् अन्य।

3. गुड्स एंड सर्विस टैक्स रजिस्ट्रेशन (GST Registration) –

GST रजिस्ट्रेशन एक महत्वपूर्ण लीगल रजिस्ट्रेशन है आपके नए बिज़नेस के लिए क्योंकि जब आप कोई सर्विस या माल बेचेंगे तो आपको इनवॉइस में अपने व्यवसाय के GST आइडेंटिफिकेशन नंबर भी लिखने होंगे जो रजिस्ट्रेशन  करवाने के बाद मिलते है। यह एक अप्रत्यक्ष कर है जो केंद्र व् राज्य सरकार द्वारा वसूला जाता है। GST रजिस्ट्रेशन के कई फायदे भी है जैसे की MSME बिज़नेस, कम्पोजीशन स्कीम का फायदा उठा सकते है। अगर आपके व्यवसाय का वार्षिक टर्नओवर 40 लाख रूपये है तो GST रेगिस्ट्रशन  करवाना आपके लिए अनिवार्य है तथा कुछ राज्यों में वार्षिक टर्नओवर २० लाख रूपये से ज्यादा होने पर भी GST Registration Online करवाना अनिवार्य होता है। जीएसटी पंजीकरण उन लोगों के लिए अनिवार्य है जो उत्तरदायी हैं, GST के नियमो के तहत अगर आप GST रजिस्ट्रेशन करवाने में विफल रहते है तो आपको इसके कानूनी परिणामों का सामना करना पड़ेगा जैसे की आपको कारावास की सजा मिल सकती है या फिर आपको इसके लिए जुर्माना भरना पड़ सकता है।

4. ट्रेडमार्क रजिस्ट्रेशन (Trademark Registration) –

आज के समय में ट्रेडमार्क रजिस्ट्रेशन बहुत महत्वपूर्ण है क्योंकि इसके बिना आपके बिज़नेस का नाम व् Logo कोई भी कॉपी कर सकता है, अगर आप अपने बिज़नेस के नाम व् logo का ट्रेडमार्क रजिस्ट्रेशन करवाते है तो उसे कोई भी और व्यक्ति उसे उपयोग नहीं कर पायेगा और सिर्फ आपको ही उस नाम व् logo को इस्तेमाल करने का अधिकार होगा। इससे आपके बिज़नेस को एक अलग पहचान मिलेगी तो इसका रजिस्ट्रेशन जरूर करवाए।

5. शॉप एक्ट लाइसेंस (Shop Act License) –

शॉप एक्ट लाइसेंस एक महत्वपूर्ण रजिस्ट्रेशन है क्योंकि इसके बिना आप लोकल एरिया में कोई भी व्यावसायिक गतिविधि नहीं कर पाएंगे, व्यसायिक गतिविधि करने के लिए आपको नगर निगम की अनुमति लेनी होगी जिसके लिए आपको शॉप एक्ट लाइसेंस लेना होगा तो इस बात का ध्यान रखे की शॉप एक्ट लाइसेंस लेना बहुत जरुरी है किसी भी व्यावसायिक गतिविधि के लिए। शॉप एक्ट लाइसेंस लेने के लिए आपको इसका फॉर्म भरना होगा जो की आपको अपने एरिया के नगर निगम जाके लेना होगा या फिर अगर ये सुविधा ऑनलाइन उपलब्ध हो तो आप वह पे अपना फॉर्म भर सकते है।

जैसा की आप ऊपर दिए गए आर्टिकल में देख सकते है की ऊपर दिए गए सारे लीगल रजिस्ट्रेशन जैसे GST, बिज़नेस रजिस्ट्रेशन, शॉप एक्ट लाइसेंस, उद्योग आधार रजिस्ट्रेशन, ट्रेडमार्क रजिस्ट्रेशन करवाना बहुत ही जरुरी है तो अगर आप एक नया बिज़नेस शुरू करने का सोच रहे है तो ऊपर लिखी बातो को ध्यान में रखे और ये रजिस्ट्रेशन जरूर करवाए।

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.